MLA की क्या फुलफोरम होती हैं ? MLA Ka Full Form?

भारत एक लोकतान्त्रिक देश हैं, जिसमे राजनीति की अपनी अहम भूमिका मानी जाती हैं। राजनीति के अंतर्गत विभिन्न पार्टियां हैं जो चुनाव के माध्यम से अपनी सरकार निर्धारित करती हैं। राज्य सरकार व केंद्र सरकार के मंत्रिमंडल के आधार पर सांसद व विधायकों के चुनाव होते हैं। आज के इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको बताएंगे की MLA की फुलफोरम क्या होती हैं। व राजनीति की दिशा मे एक विधायक की क्या भूमिका होती हैं।

MLA की क्या फुलफोरम होती हैं ? MLA Ka Full Form?

तो बिना समय को व्यर्थ करते हुए आज के इस आर्टिकल को शरू करते हैं।

MLA की क्या फुलफोरम होती हैं ?

MLA जिसकी फुलफोरम Member of Legislative Assembly हैं। इसको दूसरी भाषा मे विधायक भी कहाँ जाता हैं। एक विधायिक के चुनाव प्रत्येक योजना मे 5 वर्ष बाद होते हैं। राज्य सरकार के विधान मण्डल के अंतर्गत विधायिकी के चुनाव होते हैं। भारत सरकार के दृष्टिकोण मे उत्तरप्रदेश सरकार के अंतर्गत सर्वाधिक विधायक हैं  जिनकी संख्या ४०३ हैं। हम अपने दैनिक जीवन मे ऐसी बहुत सी खबर सुनते हैं, जिनमे विधायक के विषय मे सूचना आती रहती हैं। लेकिन बहुत कम लोग को MLA की फुलफोरम का पता होता हैं। निर्वाचन क्षेत्र मे मतदत्ताओ की सूची के तहत सम्पूर्ण जिला के अंतर्गत विधायक के चुनाव होते हैं।

स्टेट गवर्नमेंट ऑफ इंडिया के अंतर्गत constituency को निर्मित करने के लिए विधायकों के चुनाव होते हैं।


MLA क्या हैं इसकी क्या भूमिका हैं?

जैसा की हम ऊपर वर्णन कर चुके हैं कि विधायक राज्य सरकार के अंतर्गत मंत्रिमंडल का एक प्रमुख नेता होता हैं जो मतदातओं के अनुरूप चुना जाता हैं। भारत की राज्य सरकार के अंतर्गत हर पाँच वर्ष में होने वाले चुनावों के नतीज़ों पर आश्रित एक विधायक की नियुक्ति हैं राज्य सरकार के आधीन उत्तरप्रदेश सरकार मंत्रिमंडल में सर्वाधिक MLA हैं। इसके अलावा विधायक की अपनी एक अहम भूमिका होती हैं जिसके अंतर्गत उसे प्रदेश में सुशासन व प्रसासन व्यवस्था को देखते हुए बहुत से कार्य करने होते हैं।

MLA के अंतर्गत आने वाले प्रमुख कार्य इस प्रकार से हैं।

  1. अपने निर्वाचन क्षेत्र की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए, सभी आवश्यक योजनाओ को मुहैया कराना।
  2. मन्त्रिमण्डल में पारित हुई योजनाओ में अपनी राय रखना।
  3. निर्वाचित पार्टी का सदस्य होने के नाते गठन की चर्चाओ में भाग लेना तथा कानूनी व्यवस्था को मजबूत करना।
  4. कैबिनेट मंत्री व अन्य बड़े पार्टी के कार्यकर्ताओं के साथ विचार विमर्श करना।

MLA के लिए क्या योगता होनी अनिवार्य हैं?

एक विधायक का पद बहुत ही सम्मानित व बड़ा पद होता हैं जिसके लिए कुछ महत्वपूर्ण योगताओ का होना अति आवश्यक हैं। निर्वाचन आयोग के तहत कुछ महत्वपूर्ण योगयता इस प्रकार से हैं।

  • प्रतिनिधि की कम से कम 25 वर्ष की आयु हो।
  • प्रतिनिधि को भारतीय मूल का नागरिक होना अनिवार्य हैं।
  • प्रतिनिधि का मानसिक संतुलन बिल्कुल स्पस्ट होना चाहिए।
  • प्रतिनिधि में सर्वसमाज के हितों को समझने की तीव्र इक्षाशक्ति हो।
  • प्रतिनिधि का कोई भूतकाल में क्राइम रिकॉर्ड न हो।

विधायक नीति के अंतर्गत कोनसी योजनाये आती हैं?

हालांकि, विधायक राज्य सरकार के अंतर्गत आने वाला एक मंत्री होता हैं पर उसके अंतर्गत ज्यादा योजनाये का दस्ता नही आता। एक निर्वाचित क्षेत्र से चुने गए विधायक के अंतर्गत निम्न योजनाये आती हैं जिनका वर्णन हम नीचे करेंगे।

क्षेत्र में बेहतर विद्युत की सुविधा को मुहैया कराना।

क्षेत्र में बेहतर परिवहन व राजमार्ग को व्यवस्थित करना।

कानूनी व्यवस्था को समझते हुए महत्वपूर्ण सुरक्षा बलों की क्षेत्र में तैनाती करना।

शिक्षा के स्तर को देखते हुए बेहतर विद्यालय व कॉलेज का निर्माण कराना।

प्रत्येक मतदाता व आम आदमी की समस्या का निवारण करना।

ये कुछ प्रमुख बाते हैं जिन पर एक विधायक एक्शन लेकर उनका समाधान कर सकता हैं। इसके अलावा, राज्य सरकारों में विधायकों की बहुत बड़ी सूची होती हैं जिसमे प्रत्येक विधायक को सही तरिके से जानना व पहचानना इतना सरल नही होता। परंतु समाज के स्तर से ऊपर उठकर जो MLA अपने क्षेत्र के लोगो की समस्या को ध्यानपूर्वक सुनते हैं व क्षेत्र में बहेतर सुविधा को मुहैया कराते हैं उनकी गणना दिग्गज नेताओं में होती हैं।

योजनाओ के अंतर्गत आवंटन धनराशि का सही दिशा में क्षेत्र के लोगो के निर्माण होते उपयोग करना एक बेहतर विधायक की नीति के अंतर्गत आता हैं।


विधायक का मासिक वेतन कितना होता हैं?

राज्य सरकार के अंतर्गत प्रदेश में विधायक निधि से अलग मासिक वेतन भी मिलता हैं जिसकी मात्रा राज्य के हिसाब से अलग अलग हैं एक विधायक को अपनी योजना में 1 लाख से 1 लाख 80 हज़ार रुपये तक आवंटित होते हैं इसके अलावा राज्य सरकार के अंतर्गत अन्य सेवाय भी मुहैया होती हैं जिनमे वाहन खर्च से लेकर मोबाइल फ़ोन के बिल तक का हिसाब होता हैं।

तो आज के इस आर्टिकल के माध्यम से हमने जाना कि एक MLA की क्या फुल्लफॉर्म होती हैं। व विधायक योजना के अंतर्गत आनी वाली कोनसी सुविधा होती हैं। राज्य सरकार के अंडर आने वाले सभी मन्त्रिमण्डल की बैठकों में MLA की अपनी एक प्रमुख भूमिका होती हैं। आशा करते हैं आज के इस आर्टिकल के माध्यम से आपने MLA के विषय मे आवश्यक जानकारी प्राप्त की होगी।