EDI फुल्लफॉर्म व इसका क्या कार्य हैं? EDI Full Form?

कंप्यूटर के बढ़ते उपयोग को देखते हुए आज बड़ी बड़ी कंपनियों में डेटा ट्रांसफर को लेकर नए नए सॉफ्टवेयर लांच हो रहे हैं। डेटा ट्रांसफर एक ऐसी प्रक्रिया हैं जिसको ध्यान में रखते हुए डेटा ट्रांसफर करने से पहले बहुत कुछ महत्वपूर्ण बातों को ध्यान में रखना होता हैं।

EDI फुल्लफॉर्म व इसका क्या कार्य हैं? EDI Full Form?
Image credit: Flow.space

आज के इस आर्टिकल के माध्यम से हम ऐसे ही एक तरिके की चर्चा करेंगे जो न केवल डेटा ट्रांसफर के लिए जाना जाता हैं बल्कि सुरक्षित तरीके से एक विशेष संघ या कम्पनी के डेटा को ट्रांसफर करने में मदद करता हैं। जी हाँ, हम बात करेंगे EDI की जिसे जो एक इलेक्ट्रॉनिक पदत्ति पर आधरित नेटवर्क हैं। तो बिना देरी किये शरू करते हैं आज के केस आर्टिकल को जिसमे हम आपको EDI से सम्बंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी देने की पूर्ण कोशिश करेंगे।


EDI फुल्लफॉर्म इसका क्या कार्य हैं?

EDI का प्राथमिक माध्यम हैं किसी भी डेटा को एक कंप्यूटर या सिस्टम नेटवर्क से दूसरे में ट्रांसफर करने के लिए उपयोग होता हैं। यह मुख्य रूप से e-commerce कंपनियों के डेटा को ट्रांसफर करने के लिए अत्यधिक उयोग किया जाता हैं। इसका पूरा नाम Electronic Data Interchange सिस्टम होता हैं।

बड़ी बड़ी कंपनियों के प्रोडक्ट्स को व्यवस्थित कर उन सभी के बारे में जानकारी हासिल कर रिटेलर्स तक पहुचाने का कार्य EDI के द्वारा किया जाता हैं।यह एक ऐसा सॉफ्टवेयर हैं जिसके माध्यम से कंपनी किसी एक पाटिक्यलर फाइल को कंप्युटर से अन्य किसी कंप्युटर मे इलेक्ट्रॉनिक पद्दती की मदद से ट्रैन्स्फर कर सकती हैं।

जैसा की अभी हमने ऊपर वर्णन किया हैं की इसका प्रयोग विशेष रूप से e commerce संस्थानों में ज्यादा किया जाता हैं ठीक उसी प्रकार से कंपनियों के महत्वपूर्ण कागज़ व दस्तावेज को offline न सेंड कर इलेक्ट्रॉनिक माध्यम के जरिये भेजा जाता हैं जिसे हम EDI या इलेक्ट्रोनिक डेटा इंटरचेंज कहते हैं।

इसका उयोग काफी वर्षो से चलता आ रहा हैं। पूर्व में इसे Computer exchange to computer के नज़रिए से जाना जाता जाता था। परंतु जैसे जैसे इसकी डिमांड बढ़ी तो इसे EDI के नाम से जाना जाने लगा।

E commerce क्षेत्र से रिलेटेड जितने भी परचेस आर्डर व बिलिंग दस्तावेज़ होते हैं वो सभी EDI की सहायता से ही व्यवस्थित किये जाते हैं।

एक समय था, जब business के कार्यो से रिलेटेड बड़ी बड़ी मेल की जाती थी। परंतु जबसे EDI की पहल शरू हुई हैं ये सब कार्य बहुत ही सरल और कस्टमर ओरिएंटेड बन चुके हैं। इसका सबसे ज्यादा फायदा पेपर वर्क को कम करने की दिशा में हुआ हैं। अब कोई ज्यादा पेपर वर्क की आवश्यकता नही रहती।

EDI की सहायता से न केवल समय और धन की बचत हुई हैं बल्कि EDI के माध्यम से अब किसी भी पेपर वर्क को करने व उसको गन्तव्य स्थान तक पहुचाने के लिए डाक पार्सल की भी जरूरत नही हैं। सरल भाषा मे कह सकते हैं कि EDI एक तरिके का इलेक्ट्रॉनिक मेल सिस्टम हैं। जिसमे समय के साथ साथ डाक पार्सल में खर्च होने वाली रकम को भी व्यवस्थित किया जाता हैं।


EDI कैसे कार्य करता हैं?

अब विषय आता हैं कि EDI आखिर कार्य कैसे करता हैं। तो इसके लिए कोई अधिक प्रयाश की आवश्यकता नही हैं यह बड़ा ही सरल सिस्टम हैं। तो आईये जानते हैं कि EDI कार्य कैसे करता हैं। जैसा कि हमने अब तक जाना की EDI की मदद से हम व्यवसायों के बीच के महत्वपूर्ण डेटा या बिलिंग दस्तावेज का आदान प्रदान करते हैं। इसके लिए हमे सबसे पहले एक डॉक्यूमेंट तयार करना होता हैं। और फिर उस डॉक्यूमेंट को EDI फॉरमेट में परिवर्तित करना होता हैं।

इसके बाद उस कन्वर्ट डॉक्यूमेंट को अपने बिज़नेस पार्टनर जिसे भी आप वो अटैच डॉक्यूमेंट भेजना चाहते हैं। उसको उस डॉक्यूमेंट के साथ कनेक्ट कर ले। बस यह कुछ महत्वपूर्ण बिन्दुओ को ध्यान में रखते हुए आप आसानी से EDI यूज़ कर सकते हैं। और अपने बिज़नेस से रेलेटेड कोई भी दस्तावेज़ बड़ी ही आसानी से सेंड कर सकते हैं।

इसके अलावा EDI मुख्यतौर पर चार स्टैण्डर्ड पर आधारित कार्य करता हैं। जो कि इस प्रकार से हैं।

  • Translation Software
  • Communication
  • Integration
  • Standards

E-commerce अब इतना बड़ा माध्यम बन चुका हैं।जिसके बारे में शायद ही न कोई जानता हो। Flipkart,Indiamart जैसी बड़ी कंपनियां जो केवल e commerce पर बेस्ड कंपनी हैं। इसीलिए तकनीकी रूप से इन्हें commerce आर्गेनाइजेशन का दर्जा दिया गया हैं।जिसके चलते खरीददारी व बिक्री को व्यवस्थित कर सभी ऑर्डर्स व डिलीवरी की सूची बनाकर सही तरह से मैनेज की जा सके। EDI कार्य प्रणाली के तहत ये सब कार्य बहुत ही आसान हो गए हैं। जिसकी मदद से सटीक जानकारी मुहैया की जा सके और समय व पैसे की भी बचत हो सके।

तो आज के इस आर्टिकल के माध्यम से हमने जाना कि EDI की क्या फुल्लफॉर्म होती हैं। व इसका e commerce के क्षेत्र में क्या योगदान हैं। डेटा ट्रांसफर करने के लिए EDI को किस तरीके से इस्तमाल किया जाता हैं। तो आशा करते हैं आज के इस आर्टिकल से आपको EDI के बारे में पर्याप्त जानकारी मिली होगी।

Post a Comment

0 Comments

Close Menu