Demat अकाउंट क्या होता है? What is the Demat account in Hindi?

Demat अकाउंट जिसके बारे मे शायद हर कोई न जानता हो, परंतु शेयर मार्केट से जुड़े प्रत्येक व्यक्ति को इसके बारे मे अच्छे से पता होता है शेयर मार्केट मे निवेश करने के लिए demat अकाउंट ओपनिंग कराना पहली सीडी है। इसके बिना शेयर को खरीदना व बेचा नहीं जा सकता।

Demat अकाउंट क्या होता है? What is the Demat account in Hindi?

आज से कुछ वर्ष पूर्व Demat अकाउंट ओपन करने के लिए बैंक शाखा मे संपर्क करना पड़ता था। Demat अकाउंट खोलने के लिए बैंक से एक  फोरम लेकर व उसमे अंकित डिटेल्स को भरकर जमा करने होता था।


परंतु आज के इस नवीनयुग मे सब कुछ डिजिटल हो जाने से किसी भी बैंक शाखा मे जाकर Demat अकाउंट ओपन करनी की कोई आवश्यकता नहीं है। तो आज के इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको बटाएगे कि किस तरह से Demat अकाउंट को ओपन करे व इसके द्वारा किस तरीके से investing व trading की जाती है।

Demat अकाउंट क्या होता है?

जिस तरीके से बैंक मे अपनी निजी धनराशि को व्यवस्थित रूप मे सुरक्षित रखने के लिए ग्राहक का एक खाता होता है। ठीक उसी प्रकार शेयर मार्केट मे शेयर को खरीदने व बेचने के लिए एक अकाउंट की जरूरत होती है। इस Demat अकाउंट मे ग्राहक के द्वारा की गई इन्वेस्टइंग की जानकारी व सभी शेयर का data मोजूद रहता है।

शेयर मार्केट मे निवेश करने के लिए Demat अकाउंट का ओपन कराना बहुत ही जरूरी है,इसके बिना निवेश करना व शेयर को चुनना सरल नहीं है।

१९ के दशकों के समय Demat अकाउंट व शेयर को खरीदने की सम्पूर्ण जानकारी पेपर वर्क के तहत हुआ करती थी, जिसके अंतर्गत समय की अधिक खपत थी। परंतु धीरे धीरे डिजिटल युग आने के बाद ये सब पूरी तरह से बदल गया ओर आज शेयर मार्केट मे निवेश करने के लिए किसी बड़े कंप्युटर व प्रोग्राममो की जरूरत नहीं है। इसके लिए केवल मोबाईल फोन से भी investing व trading करना बहुत ही आसान है।


Demat अकाउंट ओपन करने के लिए किन दस्तावेज़ों के जरूरत पड़ती है?

जिस तरह हम किसी भी बैंक की शाखा मे खाता खुलवाने के लिए जाते है, उसके लिए हमे कुछ महत्वपूर्ण व्यक्तिगत दस्तावेज़ों के जरूरत पड़ती है। ठीक उसी तरह demat अकाउंट खोलने के लिए भी कुछ कागजों की जरूरत होती है। वो क्या होते हं यह नीचे दिए गए है।

  • Demat अकाउंट ओपन करने के लिए PAN कार्ड होना अनिवार्य है।
  • Demat अकाउंट ओपन करने के लिए आधार कार्ड होना अनिवार्य है।
  • Demat अकाउंट ओपन करने के लिए २ पासपोर्ट फोटो होना अनिवार्य है।
  • Demat अकाउंट ओपन करने के लिए (POI) प्रूफ ऑफ इंकम होना अनिवार्य है।

इन प्रमुक दस्तावेजों की सहायता से Demat अकाउंट ओपन करे सकते है। प्रांत बहुत से लोगों के मन मे यह सवाल आता है। कि Demat अकाउंट किसके अंतर्गत ओपन करे। क्यूंकी आज के समय मे इतने माध्यम हमारे सामने है, जिनमे अलग अलग brooking charge व अकाउंट ओपन करने के लिए फीस लगती है। तो Demat अकाउंट ओपन करने के लिए क्या क्या विकल्प है। वो इस प्रकार है।

  1. Zerodha
  2. Angel Brooking
  3. Upstocks
  4. Grow more

हालांकि, प्रत्येक Demat अकाउंट की अपनी अपनी ओपनिंग चार्ज फीस होती है। इसके अलावा ऐन्जल ब्रूकिनग जैसे Demat अकाउंट मे अकाउंट ओपनिंग फीस शून्य है। अगर बात करे की सबसे बेहतर Demat अकाउंट सेवा कोनसे अकाउंट के जरिए दी जाती है। तो उसके लिए किसी एक को चुनना इतना सरल नह है। फिर भी शेयर मार्केट मे सबसे अधिक प्रचलित Demat अकाउंट का दर्जा Zerodha को दिया जाता है। जिसकी अकाउंट ओपनिंग ऐन्यूअल फी ३०० रुपये है।

Demat accounts की सुरक्षा व ग्राहक की महत्वपूर्ण जानकारी को ध्यान मे रखते हुए, Demat अकाउंट को विशेष दो संस्थानों के द्वारा कंट्रोल किया जाता है, ये दो संस्था है।

  1. NSDL नैशनल सेक्यूरिटीस डेपोसीटींग लिमिटेड
  2. CDSL सेंट्रल सेक्यूरिटीस डेपोसीटींग लिमिटेड

Demat अकाउंट के क्या फायदे है?

जैसा है कि हम ऊपर वर्णन कर चुके है। कि शेयर मार्केट मे निवेश करने की प्रथम सीडी Demat अकाउंट है। इसके द्वारा अपने शेयर को संभाल के रखने व बिना किसी दुरुपयोग के व्यवस्थित करने के लिए एक सहायक माध्यम है।  आज के इस डिजिटल युग मे एक जहां नई नई तकनीकी सामने आ रही है उनको देखते हुए प्रत्येक व्यक्ति के मन मे उनका लाभ उठाकर पैसा कमाने की जिज्ञासा है। शेयर मार्केट एक ऐसा प्लेटफॉर्म है जहां पर सही दिशा मे दिमाग इस्तमल करने व अध्यन का इस्तमल कर अच्छा पैसा कमाया जा सकत है।

इन सभी बातों को ध्यान मे रखते हुए सही Demat अकाउंट का चुनाव करना भी इतना ही महत्वपूर्ण है जितना की किसी शेयर को चुनना। तो Demat अकाउंट के कुछ चुनिंदा फ़ायदों के बारे मे बताते है।

  • कागजी दस्तावेज़ों को दूर करने के लिए Demat अकाउंट की अपनी एक भूमिका है। जिसके कारण अपने शेयर को सही तरीके से अपने अकाउंट मे सुरूक्षित रख सकते है।
  • शेयर को ट्रैन्स्फर करने के लिए Demat अकाउंट का अपना प्रमुख योगदान है। जिसमे समय की बचत के साथ साथ मनी सवेर भी है।
  • Demat अकाउंट से trading करना बहुत ही सरल है।
  • शेयर का सही दम निर्धारित कर उसे मार मे बेचना बहुत ही आसान हो जाता है।

तो ये कुछ Demat अकाउंट के फायदे है जिनकी मदद से हम आसानी से शेयर मार्केट को रन कर सकते है।

Post a Comment

0 Comments

Close Menu